जानिए लड़कों को सबसे ज्यादा क्यों पसंद होती है डॉगी स्टाइल पोजीशन

बेशक महिलाओं को यह पसंद न हो लेकिन पुरुष डॉगी स्टाइल में सेक्स का करना पसंद करते हैं। बेशक आपके बेडरूम के लिए यह पोजीशन आपकी लिस्ट में टॉप में नहीं है लेकिन चुपके से हर व्यक्ति इसका आनंद लेना चाहता है। हमने कुछ लोगों से बात की है और उनसे जानने की कोशिश की है कि क्यों वो डॉगी स्टाइल को इतना पसंद करते हैं?

अतुल के अनुसार, जब मैं सेक्स करता हूं तो डॉगी स्टाइल मेरी पहली पसंद है। इस पोजीशन में सेक्स करते हुए मुझे उसके पूरे शरीर को अपने हाथों में महसूस करता हूं जोकि मिशनरी पोजीशन में नहीं होता है। मैं सेक्स करते समय उसके एक्सप्रेशन या आई कॉन्टेक्ट नहीं करना चाहता बल्कि सेक्स का मजा लेना चाहता हूं।

वरुण के अनुसार, सेक्स के दौरान पेनिट्रेशन देखना मेरे लिए सुखद एहसास होता है। और यह इस पोजीशन में ही संभव हो पाता है। गर्ल ऑन टॉप भी बेहतर पोजीशन है लेकिन मैं जानबूझकर पेनिट्रेशन देखने से बचता हूं जिससे पार्टनर को बुरा ना लगे।

दीप के अनुसार, इस पोजीशन में मुझे पार्टनर की बैक और ऐस दोनों देखने को मिलते हैं। मुझे उसकी कमर पर उंगली फिराना और उसके बट को पकड़ना अच्छा लगता है। कुल मिलाकर मुझे इस पोजीशन में सेक्स का पूरा आनंद मिलता है

अंकुश के अनुसार, यह नॉटी पोजीशन है। मेरी पार्टनर इसे एन्जॉय करती है क्योंकि वो नॉटी गर्ल है और मैं बैड बॉय हूं। वास्तव में यह एक ऐसी पोजीशन है जिसमें हमें अपने इमोशन को एक तरफ रखना पड़ता है और केवल सेक्स का आनंद लेते हैं।

संजीव के अनुसार, मैं हमेशा एनल सेक्स करना चाहता था और कई बार ट्राई भी किया। यह मेरे लिए बेहद सुखद अनुभव रहा क्योंकि इसमें अधिक प्रयास भी करना पड़ता है। लड़कियां इसके लिए आसानी से तैयार नहीं होती हैं। लेकिन डॉगी स्टाइल भी एनल सेक्स की तरह ही है। इससे भी आपको उसी तरह का सुख मिलता है।

विनय ने कहा, मैं डॉगी स्टाइल में क्लाइमेक्स के दौरान डीपली और जोर से पेनिट्रेशन कर सकता हूं। सबसे बड़ी बात इसमें मिशनरी या अन्य पोजीशन से कम थकान होती है। इसलिए यह पोजीशन मुझे ज्यादा पसंद है।

रविश के अनुसार, मुझे सेक्स के दौरान पार्टनर के बूब्स और बट पकड़ना अच्छा लगता है और डॉगी स्टाइल उसके लिए बेहतर है। मुझे यह पोजीशन अन्य पोजीशन से आसान लगती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Main Menu