पीरियड आने से पहले क्या होता है?

लड़कियों की उम्र जैसे ही 12 से 13 वर्ष के बीच होती है अधिकांश लड़कियों को पीरियड आना शुरू हो जाते है। जिन लड़कियों के उम्र 12 हो गई उसके मन में प्रश्न होता है कि पहली बार पीरियड आने से पहले क्या होता है और पीरियड आने के लक्षण क्या होते है?

लड़कियों में मासिक धर्म का आना महिला की प्रजनन प्रणाली का हिस्सा है, जो हर महीने बच्चा पैदा करने की संभावनाओं के लिए लड़की को तैयार करता है। लेकिन इसकी शुरुआत कैसे होती है और इसको पता कैसे करे कि अब लड़की को माहवारी आने वाली है? इसके लिए आपको कुछ शारीरिक संकेत को समझना जरूरी है। जब किसी लड़की को पीरियड आना शुरू होते है तो इसके पहले लड़की में कुछ शारीरिक परिवर्तन होते है।

इन परिवर्तनों से आसानी से पता लगाया जा सकता है कि अब लड़की को पीरियड आने वाले है। आइये पीरियड आने से पहले क्या होता है और पहली बार पीरियड आने के लक्षण क्या होते है?

पीरियड आने के लक्षण क्या है?

कुछ लड़कियों को बिना किसी लक्षण के पीरियड्स शुरू हो जाते हैं। लेकिन कुछ लड़कियों में आप निम्न प्रकार के संकेतों को देख सकते है। लड़की को पीरियड आने से पहले निम्न प्रकार के लक्षण दिखाई देते है।

पीरियड आने से पहले ब्रेस्ट बड्स का विकास होना

किसी भी लड़की को पीरियड आने से पहले उसके ब्रेस्ट बड्स का विकास होने लगता है। लड़कियों को मासिक धर्म 12 वर्ष की उम्र तक आते है जिसकी वजह से जिसकी वजह से उनके स्तनों का विकास इन उम्र तक होने लगता है। किशोर लड़कियां में पहली बार पीरियड आने से पहले कुछ शारीरिक परिवर्तन दिखाई देते है जिसमें ब्रेस्ट बड्स का विकास शामिल है। हालांकि कुछ गर्ल्स में ब्रेस्ट बड्स का विकास पहले या बाद में भी होता है।

मासिक धर्म आने से पहले स्तनों में दर्द होना

जब लड़की को पहली बार मासिक धर्म आने वाले रहते है तो कुछ दिन पहले उसके स्तनों में दर्द होने लगता है। हालांकि यह दर्द मामूली होता है जिसे आप स्तनों को छूने पर महसूस कर सकती है।

लड़की को पहली बार पीरियड आने के संकेत मुँहासे होना

किशोरावस्था के दौरान जब लड़की को पहली बार पीरियड आने वाले होते है, तो इससे पहले लड़की को फेस पर मुंहासे होने लगते है। ऐसे इसलिए होता क्योंकि इस दौरान लड़कियों में हार्मोन का परिवर्तन होता है जिसकी वजह से लड़की को पिंपल्स होने की समस्या हो सकती है। हालांकि यह जरूरी नहीं सभी लड़कियों के साथ ऐसा हो।

कमर दर्द होना है लड़की को पीरियड आने का संकेत

लड़कियों की कमर में दर्द होना पीरियड्स आने का सबसे आम संकेत है। मासिक धर्म में गर्भाशय की मांसपेशियां सिकुड़ने लगती हैं, जिस कारण लड़कियों को पीठ से लेकर कमर और पेट में दर्द का अनुभव होता है। निचली कमर में होने वाले दर्द को डिसमिनेरिया (dysmenorrhea) भी कहते हैं। विशेषज्ञों की मानें, तो हर महीने महिलाओं के शरीर में अंडा बनाने के लिए यूटेराइन लाइनिंग (यूटेरस की लाइनिंग) बनती है, जिसे एंडोमेट्रियम कहते हैं। अगर आप प्रेग्नेंट नहीं होतीं, तो ऐसी स्थिति में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन लेवल में गिरावट आती है।

वेजाइनल डिस्‍चार्ज होना है पीरियड आने के लक्षण

पहली बार पीरियड आने के लक्षण वेजाइनल डिस्‍चार्ज होना है। योनि स्राव को ल्यूकोरिया (leukorrhea) कहा जाता है। इसमें योनि में कोशिकाओं से तरल पदार्थ और बैक्टीरिया शामिल होते हैं। पीरियड्स से पहले सफेद योनि डिस्चार्ज होता है, जो प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की बढ़ती उपस्थिति के कारण मासिक धर्म चक्र के पहले होता है।

लड़की का अचानक से चिड़चिड़ा महसूस करना है पीरियड आने के लक्षण

किसी भी लड़की को किशोरावस्था के दौरान पहली बार पीरियड आने वाले होते है तो लड़की में कुछ मानसिक परिवर्तन भी दिखाई देने लगते है जैसे की अधिक भावुक या चिड़चिड़ा महसूस करना, तनाव होना आदि। ये सभी लड़कियों में हार्मोन्स के परिवर्तन के कारण होता है।

पहली बार पीरियड्स आने के लक्षण

  • पिंपल्स का होना
  • पेट में सूजन होना
  • पीठ दर्द होना
  • कब्ज और दस्त होना
  • सामान्य से अधिक थकान महसूस होना
  • विशेष रूप से मिठाई के लिए भोजन की इच्छा होना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Main Menu