पहली बार कैसे लेना चाहिए | पहली बार ऐसे करें सेक्स

यदि आप लड़के हैं और नहीं जानतें कि पहली बार कैसे लेना चाहिए तो इस लेख को पूरा पढ़ें। फर्स्ट टाइम सेक्स कुछ खास होना चाहिए। बहुत इंतजार के बाद आपको अपने सपनों में आने वाले पार्टनर के साथ प्यार के कुछ प्यार भरे पल बिताने के अवसर मिलते हैं। अब चाहे आप हनीमून में पहली बार सेक्स करें या उससे पहले, लेकिन यह जीवन भर याद रखे जाना वाला का अनुभव होना चाहिए। जब भी आप पहली बार सेक्स के लिए तैयार हों, तो बस उन चिंताओं को छोड़ दें और बस उन पलों का आनंद लें।

आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप पहली बार लेते समय सीधे तौर पर सेक्स को शुरू न करे बल्कि इसे धीरे-धीरे शुरू करते हुए आंगें बढ़ाएं, आइए जानें पहली बार सेक्स करते समय क्या करना चाहिए।

पहली बार लेने से पहले पार्टनर के मन की बात जानें

फर्स्ट नाईट में सेक्स करने का पहला नियम यह है कि आप अपने पार्टनर के मन की बात को जानें। पहले इस बात का पता लगायें कि आपकी पार्टनर सेक्स करने के लिए इच्छुक है कि नहीं। हर समय हर कोई सेक्स के लिए तैयार नहीं भी हो सकता है, इसलिए पहली बार सेक्स करने से पहले पार्टनर से पूछ लेना अच्छा होता।

यूके लिंगरी रीटेलर ब्‍लूबेला द्वारा कराये गये सर्वे के अनुसार पहली बार सेक्‍स करने से पहले खुद को मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार करने के लिए महिलाएं लगभग 6 घंटे का समय लेती हैं। ऐसे में पार्टनर के साथ कभी भी सेक्स को लेकर जबरदस्ती ना करें। पहले उनके मन को भांपें और जब वे सेक्स करने के लिए तैयार हो जाएं तभी सेक्स करें।

पहली बार ऐसे करें सेक्स

बेड पर जाने के बाद आप बात करने को कम ही महत्‍व देंगे। लेकिन पहली बार बेड पर जाने के बाद फोरप्ले करने से पहले उनसे थोड़ी देर बात कीजिए, बात करने से वो भी सामान्‍य हो जायेंगे और उन्‍हें किसी भी प्रकार की झिझक नहीं होगी।

पहली बार सेक्स करना एक ऐसा अनुभव होता है जो न सिर्फ आपको आनंद प्रदान करता है सेक्स करने से पहले पहले से मानसिक रूप से तैयार हो जायें। महिला अंग में पुरुष अंग सम्मिलित करने के लिए दोनों पार्टनर को मानसिक रूप से तैयार होने के लिए आपको बातचीत और मजाक-मस्ती (fun) करनी जरूरी होती है साथ ही सेक्स करने के लिए ऐसे जगह का चुनाव करना चाहिए जो जगह आपके मन और शरीर दोनों को आराम पहुंचा सके मतलब आप रिलेक्स होकर ले पायें।

पहली बार कैसे लेना चाहिए में सेक्स करने से पहले फोरप्ले करें

शारीरिक संबंध बनाने के पहले प्यार भरा संपर्क स्थापित करना ज़रूरी होता है। साधारणतः फोरप्ले (foreplay) को महत्व पुरूष नहीं देते हैं मगर लड़कियों को सेक्स के लिए उत्तेजित या गर्म करने के लिए फोरप्ले बहुत ज़रूरी होता है। सेक्स करने के पहले ज़्यादातर महिलाओं को मानसिक रूप से तैयार होने के लिए किस (kiss) करना, उनकी केयर करना, कामुक स्पर्श करना अच्छा लगता है।

इसके द्वारा वे धीरे-धीरे इस सेक्स के लिए मानसिक रूप से तैयार होने लगती हैं। उसी तरह पुरूषों के शरीर को भी महिलाओं के प्यार भरे स्पर्श की ज़रूरत होती है। सेक्स करने से पहले फोरप्ले करें।

अपने पार्टनर के साथ किस करें, रोमांस करें, उन्हें ब्लो जॉब दें। आप सेक्स के लिए लड़की गो गर्म करने के लिए लड़की की वेजाइना को चूस भी सकते है, इससे लड़की की योनी गीली हो जाएगी और वह खुद आपसे सेक्स करने को कहने लगेगी।

हां, ऐसा भी कोई जरूरी नहीं है कि रोमांस की शुरूआत बेडरूम से ही करें। आप रोमांस की शुरूआत सीढ़ीयों, किचन जैसी जगहों पर भी कर सकते हैं। रोजाना की जगह से हटकर रोमांस करना उन्हें और भी अच्छा लगता है।

फोरप्ले के बाद लेना शुरू करें

सेक्स शुरू करते ही पेनिट्रेशन (penetration) करना सबसे बुरा व्यवहार होता है क्योंकि इस से दोनों पार्टनर के बीच प्यार का बंधन नहीं बन पाता है बल्कि इससे सिर्फ सेक्स ही होता है। जब आपका साथी पूरी तरह से अपने चरम ऑर्गेज्म की स्थिति में पहुंच जाये तभी पेनिट्रेशन करके सेक्स का मजा लेना चाहिए।

सेक्स का मजा उठाने के लिए जरूरी बातों के बारे में भी जान लेना चाहिए है। महिला की वेजाइना के बारे में सेक्स करने से पहले अच्छी तरह से जान लें। हो सकता है पहली बार पुरूषों को इस बात का पता नहीं होता है कि योनिमार्ग (vagina) किधर है। इसलिए बिना जाने वे लिंग (penis) को योनी में प्रवेश करने की कोशिश करते हैं जिससे महिलाओं को बहुत दर्द का अनुभव करना पड़ता है। साथ ही महिला पार्टनर के बिना लुब्रिकेट (lubrication) हुए ही अगर आप उनके साथ सेक्स कर लेते हैं तो इससे उन्हें दर्द तो होता ही है साथ ही मजा भी नहीं आता है। ऐसे में कभी भी ये गलती ना करें। सेक्स करने के लिए बिना शर्म किए अपने साथी की सहायता लें।

पहली बार कैसे लेना चाहिए में लिंग प्रवेश के समय बरतें सावधानी

महिला की योनि में लिंग डालने के बाद आपको उसे अंदर की तरफ पुश (push) करना होता है। इस प्रक्रिया में आपको तो आनंद का एहसास होता है साथ ही आपकी महिला साथी को भी अच्छा लगता है। सेक्स करते समय पुरुषों को जब डिस्चार्ज होने लगता है तो वो अवस्था उनके ऑर्गेज्म की होती है। सेक्स करने से पहले पुरुषों कॉन्डोम या गर्भनिरोधक गोलियों का बंदोबस्त रखना ज़रूरी होता है।

सेक्स करने के वक्त कॉन्डोम का इस्तेमाल ज़रूर करें। कभी भी जबरदस्ती न करें। पेनिट्रेशन (penetration) के बाद पुरूष को अपने सुख के साथ साथी के खुशी का भी ध्यान रखना चाहिए। सेक्स संबंध स्थापित करने के तुरन्त बाद ही अलग नहीं हो जाना चाहिए बल्कि एक-दूसरे को प्यार करना चाहिए, किस करना चाहिए, गले मिलना (cuddle) चाहिए इससे दोनों के बीच का संबंध और भी गहरा होता है। सबसे ज़रूरी बात यह है कि खुद के प्राइवेट पार्ट्स (private parts) को साफ कर लें। अगर आपके कॉन्डोम का इस्तेमाल किया है तो कागज में रैप करके डस्टबीन में फेंक दें।

ऐसे किया जाता है सेक्सुअल इंटरकोर्स

फोरप्ले की क्रिया अक्सर सेक्सुअल इंटरकोर्स से पहले की जाती है। इसके बाद लड़के के लिंग में तनाव व कठोरता उत्पन्न होती है और लड़की की योनि में प्राकृतिक चिकनाहट आने लगती है।

सेक्सुअल इंटरकोर्स करने के लिए लड़का अपने खड़े हुए लिंग को लड़की की योनि में अंदर डालता है। इसके बाद दोनो लड़का और लड़की सेक्स करने के लिए अपने कूल्हों को आगे-पीछे कर लिंग को योनि में अंदर बाहर करते हैं। इस क्रिया में लिंग किसी भी समय योनि से पूरा बाहर नहीं आता। इस क्रिया में दोनों ही पार्टनर्स को सेक्सुअल प्लेजर प्राप्त होता है।

सेक्स करने की यह क्रिया तब तक जारी रहती है जब तक लड़का और लड़की दोनों ही एक अत्यधिक यौन आनन्द की स्थिति नहीं प्राप्त कर लेते। लड़की की पहली बार लेते समय चरमोत्कर्ष की स्थिति में लड़का और लड़की दोनों ही स्खलन महसूस कर सकते हैं। लड़के के शुक्राणुओं का स्खलन अपने लिंग से वीर्य के रूप में होता है, जबकि लड़की की योनि से तरल पदार्थों का स्खलन योनि रज के रूप में होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Main Menu