जब पसंद लड़के हैं तो सेक्स भी लड़कों के साथ ही करेंगे!

यह कोई पुरानी बात नहीं अभी 4-5 महीनें पुरानी बात है। एक दिन त्यौहार पर मैं दिल्ली गया तो वहां मेरा मन नहीं लगा। घर पर अकेले परेशान था। सोचा किसी पार्क में घूम आता हूँ। मैं घूमने एक पार्क में गया तो देखा कि एक आदमी अकेला बैठा है सोचा इसी से जान पहचान बना ली जाए। बस फिर क्या था उससे बात करने पर पता चला कि वह यहां अकेला है क्योंकि बीवी बच्चे गांव गए थे। देखने में वह ठीक ठाक था।

जब उसने मेरे बारे में पूछा तो बिना डरे बता दिया कि मैं एक गे हूँ। कि गे तो गांडू होते हैं मैने कहा नहीं बस लड़कों में दिलचस्पी लेते हैं और जब पसंद लड़के हैं तो सेक्स भी लड़कों के साथ ही करेंगे।

उसने बोला कि बात तो तेरी ठीक है पर अगर मैं बोलूं तो मेरे साथ सेक्स करोगे ? मैने तुरंत हां कह दिया।

वो बोला कि लेकिन जैसे मैं करूंगा वैसे करना होगा मैने फिर से हां कह दिया। बोला कई दिनों से लुगाई तो चूत देती नहीं हैं क्योंकि बच्चे परेशान करते हैं।

फिर वह मुझे अपने घर ले गया? और अंदर से गेट बंद कर लिया। फिर उसने कहा कि तुम्हें लड़की बनना पसंद है मैने हां कहा तो उसने मैरे कपड़े उतार दिए अपने हाथो से और चूची जो लोगों ने चूस चूस के मोटी कर दी थी उस पर जुबान फेरी।

फिर उसने कहा कि एक काम करों मेरी बीवी के कपड़े पहन कर आओ तुम्हारे साथ सुहागरात मनाने का मूड है वो भी हवस वाली। मैने साड़ी जो उसकी पत्नी की थी और टी शर्ट ब्लॉउज की तरह करके उसके सामने बैड पर बैठ गया। फिर उसने मेरा घूंघट उठाते हुए मेरे होठों को चाटते हुए होंठों पर किस करने लगा और मेरी जीभ भी चुसने लगा हम एकदूसरे का थूक भी चाट रहे थे। मुझे भी मजा आ रहा था तो मैं भी उसका पूरा साथ दे रहा था।

फिर मैने बीस मिनट बाद उसे हटाया तो उसने जोर से मुझे पकड़ लिया और गाल को चूसने लगा धीरे धीरे उसने मेरी गर्दन पर चूमना शुरू कर दिया हाय!!!!!! मैं तो मर ही गया था आाहहहहह आहहहह और चूमो मेरे राजा। फिर उसने मेरी चूची दबाना शुरू कर दी घर में से देशी घी लगाकर उसे इतनी जोर से दबाने लगा कि आज इन्हें उखाड़ ही देगा।

antervasana se bhari meri lund ki laalsa mujeh gay sex ke taraf le gayi!

दर्द होने पर मैने मना किया तो वो बोला अबे बोल मत मुझे घी चाटना पसंद है फिर मेरी दर्द भरी चूचियों को चूसना शुरू कर दिया आहहहह आहहह मममहहहह ममममम, क्या मजा आ रहा था। कभी दांत से काटता तो कभी अपनी जुबान फेरता। मेरी चूचियों को एसे चूस रहा था जैसे आज ही निचोड़ेगा।

मैने कहा यार दर्द हो रहा है छोड़ दो! वो बोला कहा था ना जैसे करूंगा करने दे। उसने मेरे सारे बदन को काट काट कर लाल कर दिया था कभी जांघ पर काटता तो कभी गांड पर, कभी दोनों टांगे फैलाकर मेरी गांड के छेद पर छूक लगाकर चाटता। फिर मुझे घोड़ी बनाकर मेरी गांड चाटने लगा।

मुझे गुदगुदी हो रही थी पर मजा भी आ रहा था। एकदम वो मेरे पास आया और बोला कि अब मेरा लंड चूसो वो भी चाट चाट कर मैने वैसा ही किया कभी धीरे धीरे लंड अंदर बाहर करता तो कभी एक दम मुह मैं इतनी जोर का धक्का मारतस कि मेरे आंसू निकल पड़ते।

लेकिन वो लंड चुसवाता रहा करीब आधा घंटा लंड चूसने के बाद उसने मेरी गांड पर थप्पड़ मारकर लाल कर दी ओर तेल लगाकर चिकनी करदी उसने अपने लंड पर तेल लगाकर फिर एकदम लंड धूसा दिया।

मेरी चीख निकल पड़ी आहहहहहइइइइइइइइइइई मरररगगया छोड़ दो दोस्त प्लीससससससससससस तो उसने बाहर निकाल दिया फिर इतने जोर से धक्का मारा कि मेरी आह निकल गई आााााााााहहहहहहहहहहहहह उफ्कककक ममममममम हहहहहहहहमरर अआाााााााहहहहहहहह इसे सुनकर वो समझ गया कि मुझे दर्द काफी हो रहा था ता उसने मेरे मुह में कपड़ा दे दिया।

एसे ही मेरी गांड मार मार कर सुजा दी। पर छुट्टी थी तो मैने भी कुछ नहीं बोला क्योकि घर पर आराम ही करना था।

फिर वो बोला दूध पियेगा मेरा मैने हां कह दिया फिर वो मेरे मुह पर आया और मुह में लंड घुसा कर झाड़ दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Main Menu