8 वजहें, आखिर क्यों महिलाओं के लिए अच्छा है हस्तमैथुन

सेक्स लाइफ में संतोष नहीं मिलने के चलते भावनात्मक और शारीरिक रूप से बीमार महसूस किया जा सकता है.

सेक्स की कमी, साथी के साथ खराब रिश्ते और आत्मविश्वास की कमी कुछ ऐसे मुद्दे हैं जो महिलाओं में कई स्वास्थ्य समस्याओं का कारण हैं. ज्यादातर महिलाएं सेक्स के बारे में बात करने से कतराती हैं. वे अपने सेक्शुअल अनुभव और परेशानियों के बारे में बात करने में संकोच करती हैं. ऐसी हजारों महिलाएं हैं, जो अपनी सेक्शुअल प्रोब्लम्स के साथ बस चलती जा रही हैं और उसके बारे में बात तक नहीं करतीं. 

सेक्स लाइफ (Sex Life) या यौन जीवन में संतोष नहीं मिलने के चलते भावनात्मक और शारीरिक रूप से बीमार महसूस किया जा सकता है. तो ऐसे में हस्तमैथुन एक अच्छा विकल्प हो सकता है, खुद को संतुष्ट करने का.

1. हस्तमैथुन (Masturbation) सेक्शुअल टेंशन को दूर करने का एक अच्छा विकल्प है.


2. एक ओर जहां यौन जीवन या इंटरकोर्स आदर से भरा, खूबसूरत और संपूर्णता से भरा अनुभव होता है, वहीं हस्तमैथुन उन लोगों के लिए प्लेजर पाने का साधन हो सकता है जो यौन जीवन में इन सभी बातों से दूर हैं.

3. हस्तमैथुन (Masturbation) महिलाओं को चरमोत्कर्ष यानी ऑर्गेज्म (Orgasm) पाने में मददगार है. ऑर्गेज्म पाने से मूड सही रहता है.

4. इसके साथ ही हस्तमैथुन (Masturbation) लोगों को डिप्रेशन से भी बचा सकता है. यौन जीवन में तनाव और असंतुष्टि डिप्रेशन को बढ़ावा दे सकती है.

5. हस्तमैथुन या मास्टरबेशन (Masturbation) महिलाओं में नींद से जुड़ी परेशानियों को भी दूर कर सकता है. ऑक्सीटोसिन दिमाग और शरीर को रिलेक्स करने में मददगार है और साथ ही यह गहरी नींद लाने का काम भी कर सकता है.

6. मासिक धर्म या पीरियड्स साइकिल में परेशानी का सामना करने वाली महिलाओं के लिए भी हस्तमैथुन फायदेमंद साबित हो सकता है. खुद को संतुष्टि मिलने या ऑर्गेज्म से गर्भाशय संकुचन होता है जो मासिक धर्म के दौरान ब्लड सरकुलेशन और क्रैम्प या पीरियड के दौरान होने वाले दर्द से राहत दिलाने में मददगार हो सकता है.

7. खुद को संतुष्ट करने की यह क्रिया आपको अपनी बॉडी से प्रेम करना सिखा सकती है. इससे आप अधिक आत्मविश्वास महसूस कर सकते हैं और अपने शरीर के साथ सहज होते हैं. 

8. हस्तमैथुन क्रिया का एक और फायदा यह है कि इस दौरान ऑर्गेज्म से होने वाले मसल कॉन्ट्रेक्शन पेल्विक फलोर और मसल्स को मजबूत बनाते हैं. 

इससे आपके हार्ट रेट बढ़ते हैं, त्वचा और ज्यादा चमकदार होती है और कई बार यौन अंगों में रक्त प्रवाह बढ़ने से सूजन भी आ सकती है. ऑर्गेजम के दौरान वजाइना के मसल्स, गर्भाशय और गूदा की मसल्स रिलेक्स होती हैं.  

इस सभी बातों के पीछे एक ही बात है, वह यह कि अगर आप अपनी इस क्रिया को लेकर शर्मिंदा हैं या कुछ गलत सोचते हैं तो आज से ही बुरा सोचना छोड़ दें. यह आपकी सेहत को फायदे देती है. सेक्शुअल हेल्थ का ध्यान रखना आपकी पूरी सेहत के लिए अच्छा साबित होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Main Menu